Tuesday, March 13, 2018

सपने वाला खेल


'आओ सपनों वाला खेल खेलते हैं, तुम मुझे अपना सबसे प्रिय सपना देना, मैं अपना सबसे प्रिय सपना तुम्हें दूंगा. हम एक दूसरे के सपनों को जियेंगे.'  लड़के ने कहा.

लड़की ने कहा, 'तुम. मेरा सबसे प्यारा सपना तुम हो'
लड़का हंस दिया, ' अम्म्म...मेरा सबसे प्यारा सपना है मेरे पास बहुत सारे पैसे हों, मुझे सारी दुनिया के लोग जानते हों.सम्मान करते हों
'
लड़की लड़के का सँभालने लगी. उसके पास पैसा है, शोहरत है लेकिन लड़की उदास है.

लड़का खुद के इर्द-गिर्द घूमता फिरता है. खुद के आगे न कुछ देख पाता है, सुन पाता है. वो भी बेहद उदास रहता है.

इस खेल के नियम ठीक नहीं थे. 

1 comment:

राजा कुमारेन्द्र सिंह सेंगर said...

आपकी इस पोस्ट को आज की बुलेटिन प्रतिज्ञा पूरी करने का अमर दिवस : ब्लॉग बुलेटिन में शामिल किया गया है.... आपके सादर संज्ञान की प्रतीक्षा रहेगी..... आभार...